कैसे करें महागौरी की आराधना? जानिए यहां

पाठ का समय संधि पूजा के समय हो तो बेहतर. अष्टमी, नवमी तिथि एकसाथ होने पर संधि पूजा काल आता है. 48 मिनट की संधि होती है. अष्टमी जाती है और नवमी आती है. पूजा की दृष्टि से सबसे अहम होता है संधि काल. ऋतु, दिवा, मुहूर्त की संधि

from home https://ift.tt/31TcRss
Previous
Next Post »

thank you... ConversionConversion EmoticonEmoticon

Thanks for your comment